04 जून 2020

दर्द भरी शायरी ! dard bhari shayari hindi, dard bhari shayari image, dard bhari shayari status

Also Read

dard bhari shayari image

दर्द भरी शायरी

पहली मोहब्बत मेरी हम जान न सके, प्यार क्या होता है हम पहचान न सके, हमने उन्हें दिल में बसा लिया इस कदर कि, जब चाहा उन्हें दिल से निकाल न सके।


वो रोए तो बहुत.. पर मुहं मोड़कर रोए.. कोई तो मजबूरी होगी.. जो दिल तोड़कर रोए.. मेरे सामने कर दिए मेरी तस्वीर के टुकडे़.. पता चला मेरे पीछे वो उन्हें जोड़कर रोए.

dard bhari shayari photo


मुझे सता के वो मेरी दुआएं लेता है; उसे खबर है कि मुझे बद्दुआ नहीं आती; सब कुछ सौप दिया उसे हमने; फिर भी वो कहता है, हमें वफा नहीं आती!


में कहता हूं हमें भुला दो, में कहता हूं हमें भुला दो, मगर ये तो याद रहेगा की पक्की सड़क पे वो पुराना, मकान किसका था!!!!!


कुछ उलझे सवालो से डरता हे दिल जाने, क्यों तन्हाई में बिखरता हे दिल, किसी को पाने कि अब कोई चाहत न रही, बस कुछ अपनों को खोने से डरता हे ये दिल।

dard bhari shayari in hindi


मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है, और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको, हुमारा ये पेघाम हैं, “वादा-ए-वफ़ा करो तो फिर खुद को फ़ना करो, वरना खुदा के लिए किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो”


बस वही जान सकता है मेरी तन्हाई का आलम। जिसने जिन्दगी में किसी को पाने से पहले खोया है।


केसी हे ये महोब्बत तुम्हारी, महफ़िल में मिले तो अंजाना कह दिया, ओर एकेले में मिले तो जान कह दिया।

dard bhari shayari image


तन्हा मौसम है और उदास ‎रात है, वो मिल के बिछड़ गये ये ‎कैसी मुलाक़ात है, दिल धड़क तो रहा है मगर ‎आवाज़ नही है, वो धड़कन भी साथ ले गये ‎कितनी अजीब बात है!


सुना है वो कह कर गये है के अब तो हम, सिर्फ़ तुम्हारे ख्वाबो में ही आएँगे, कोई कह दे उनसे की वो वादा कर ले हम से, ज़िंदगी भर के लिए हम सो जाएँगे..


ज़ख़्म देने की आदत नहीं हमको; हम तो आज भी वो एहसास रखते हैं; बदले बदले से तो आप हैं जनाब; जो हमारे अलावा सबको याद रखते हैं..!!


बहोत लोग मिले पर वो महोबत ना मिली, जिसकी चाहत थी वो किस्मत ना मिली, जिनके लिये बैठे है इंतजार मे, उन्हे हमारे लिए एक पल की फुरसत ना मिली।

dard bhari shayari hindi mai


अब दिल पे लग जाती है हमारी बातें, जो कहते थे, तुम कुछ भी कहो अच्छा लगता है।


बेवफ़ा कह के बुलाया तो बुरा मान गए , आईना सामने आया तो बुरा मान गए ! उनकी हर रात गुज़रती है दिवाली की तरह , हमने एक दीप जलाया तो बुरा मान गए !


जनाजा मेरा उठ रहा था; फिर भी तकलीफ थी उसे आने में; बेवफा घर में बैठी पूछ रही थी; और कितनी देर है दफनाने में!


महफ़िल तो रोज सजती है, उन पुराने ज़ख्मो की, पर क्या करे जनाब, लफ्ज़ नही निकलते... आंसू निलकते है, ओर जमाना लफ्ज़ नही समझ पाता आंसू क्या समझेगा।


हम ने मोहब्बत के नशे में आ कर, उसे खुदा बना डाला; 💕 • • होश तब आया जब उस ने कहा, कि खुदा किसी एक का नहीं होता।

dard bhari shayari in hindi 160


थोड़ी मोहब्बत तो, तुझे भी थी मुझसे, वरना इतना वक़्त बर्बाद ना करती, सिर्फ एक दिल तोड़ने के लिए


मोहब्बत की 💘 बर्बादी का क्या 💞 अफसाना था, दिल के टुकड़े 💔 हो गये पर 👫 लोगो ने कहा वाह क्या निशाना था...


उनकी बातों का दौर, उनकी आवाज का दीवाना, वो दिन भी क्या दिन थे, जब वो पास थे मेरे, और अजनबी था जमाना।

dard bhari shayari in hindi for girlfriend


रेल में खिड़की के पास बैठ के हर दफ़ा महसूस हुआ है; जो जितना ज्यादा क़रीब है वो उतनी तेजी से दूर जा रहा है..!!


लगाई तो थी आग उसकी तस्वीर में रात को सुबह देखा तो मेरा दिल छालों से भरा पड़ा था!!


ढाई अक्षर की बात कहने में ..... कितनी तकलीफ़ उठा रखी है तूने ‘आँखों‘ में छुपा रखी है ..... मैंने होंठों में दबा रखी है ...


तुम्हारे एक लम्हें पर भी, मेरा हक नहीं...!!! ना जाने तुम किस हक से, मेरे हर लम्हें में शामिल हो...!!!

dard bhari shayari pic


"हर कोई "मुझे" जिंदगी जीने का तरीका" बताता है, "उन्हें" कैसे समझाऊँ की "कुछ ख्वाब अधुरे" हैं वर्ना जीना मुझे भी आता है।

dard bhari shayari


पता है हार जाऊँगा इश्क-ऐ शतरंज में... फिर भी.. हर चाल ऐसे चलता हूँ कि अपनी रानी से दूर ना रहूँ...


कल तुम्हे फुरसत ना मिली तो क्या करोगे, इतनी मोहलत ना मिली तो क्या करोगे, रोज़ कहते हो कल बात करेंगे, कल हमारी आँखें ही ना खुली तो क्या करोगे।


वो खाने पीने की बड़ी शौकीन थीं, फ़िर एक दिन वो मेरी खुशियाँ खा गई ।

dard bhari shayari status


मैं तन्हाई को तन्हाई में तनहा कैसे छोड़ दूँ इस तन्हाई ने तन्हाई में तनहा मेरा साथ दिए है I


हम अब कैसे करें तेरे प्यार को, खुद के काबिल.... जब हम आदतें बदलतें हैं, तुम अपनी शर्तें बदल देते हो....


तेरी यादों के नशे में अब चूर हो रहा हूँ, लिखता हूँ तुम्हे और मशहूर हो रहा हूँ।।।

कोई टिप्पणी नहीं: