two line love shayari in Hindi

two line love shayari in Hindi

 

two line love shayari in Hindi

तेरा अहसास मेरी हर सांसो में बसा है

इश्क के नाम पर अब तेरा ही नशा है !!


सौ बार भी खँगालूँ खुद को,

 भीतर बस तू ही तू मिले मुझको...!!


घर जाते ही अपनी नज़र उतार लेना...

हमने इश्क़ की नजरो से देखा है तुम्हे...


छोड़ दिया चाँद का साथ हमने ये सोचकर

जो रात का ना हुआ वो हमारा क्या होगा...


तुम्हारे दिल ❤ मे कैद हैं. हमारी धड़कन...

धड़कते रहना वरना हम मर जाएंगे


two line love shayari


हमें देखा न कर उड़ती नज़र से...!! 

उम्मीदों के निकल आते हैं पर से....!!!!


बे-रूह फ़लसफ़ों की ज़रूरत नहीं रही..!! 

लफ़्ज़ों में धड़कनों का असर..चाहिये मुझे..!!


बिछड़ कर क्या लौटेंगे वो ?

साथ हो कर जो हमारे न थे..


जब जिंदगी बजा रही हो..

तो नाच लेना चाहिए..!!


हम ज़िन्दगी थे...

हमको किसी ने जिया ही नहीं...!!!😒

तुम जिसके वास्ते छोड़कर गई मुझको,

सुना है तुम  उसकी तीसरी मोहब्बत हो💔...!!!


two line love shayari in Hindi 


मौसम में ... कुछ ही सही... बात ख़ास तो है...

वो क्या है... उनका आना तय हुआ है... हमारे शहर में आज..


सँवार दूँ मैं बाल तुम्हारे... अगर तुम कहो 

हाँ माना... मुझे नहीं आता... पर इश्क़ करना भी तो... सिखाया तुम्हीं नें...


अब दर्द अगर कम हो... तो पता ही नहीं चलता...

कुछ इस तरह से... मैं जिंदगी में सताया जा चुका हूँ अबतक


बस एक दिन बाद से ही ... लहज़ा बदल सा गया है...

ये कुर्सी का नशा है... या... ग़ुरूर हुनर का


खयालों में याद करनें तक तो बात ठीक है मोहतरमा...

अगर एक क़तरा भी आँसू बहाया गया.... हमें नाराज़ होनें की एक बड़ी वज़ह दे देंगी आप...


two line shayari


कोशिशों का भी अपना... एक दौर होता है...

स्वादिष्ट पकवान बनानें में... वक़्त तो लगना ही है


समेटना है हमें ख़ुद को अभी...

इतनें बिखर गए हैं... कहीं मर न जाएँ किसी ग़ैर को याद कर कर के...


माना कि... तोहफ़ा हो तुम...

पर इतना भी न उछलो की मन बदल जाए.


इस शाम कुछ अज़ीब सी तलब है हमें...

ज़ाम उनकीं नज़रो से पीना चाहेंगे... औऱ कुछ नहीं


माला नहीं नाम जपा है तेरा एक अरसे तक...

फ़िर भी तू न मिला...  तो क्यों मानें की खुदा होता है...


अब तो वो दौर भी गुज़र गया है...

जब हमें इश्क़ हुआ करता था राह चलते चलते...


100 two line shayari 


मसअला ये हुआ कि हमें बर्दाश्त नहीं हो पाया ....

यक़ीनन इश्क़ में भी... गिर जानें का एक दायरा होता ज़रुर होगा...


नज़र मिलानें तक की तो उनकी हिम्म्मत नहीं हुई....

यूँ तो बाज़ार में हमें ही बेवफ़ा कहते रहते हैं वो...


सोच कैसी है, इमान कैसा है। 

लफ्ज़ बताते है इंसान कैसा हैं। 💯


जो शब्द तुमने मेरे कानों में कहे 

हाय उस शब्द के क्या कहने ...


तेरी पहचान में नही आया 

फिर मैने अपना चेहरा फेंक दिया💔 


हाथ डालकर दिल निकाल लूंगा 

गर फिर से किसी ने इश्क की बात की💔


बहुत क़रीब से गुज़रे मग़र ख़बर ना हुई...

कि उजड़े शहर की दीवार में खज़ाना था.


बहुत बुरे थे ना हम,

अब फरिश्ते मिल गए क्या💔।


2 line love shayari


इश्क उसी से करो जिसमें खामियाँ बेशुमार

हो,

ये खूबियों से भरे चेहरे इतराते बहुत है.....!!


मरते होगे लोग तुम्हें देखकर ,

हम तो जी उठते हैं तुम्हें देखकर 🥰


मैं सीधा साधा पवित्र पीपल सा 😅🥺

तुम उसमे लटकी चुड़ैल प्रिये 😅🤭


पता नहीं... किस तरह से लोग भूल जानें कि बात किया करते हैं...

हमसे तो हर साँस कह रही है... मौत बेहतर होगी ... उसे भूल जानें से...


चलो ये तो ठीक है कि... नाराज़ हो आप...

मग़र ग़लत बात है कि.... मनानें को भी आप मुझसे ही ज़िद कर रहे...


हमे न बताईये मोहब्बत की तहजीब,

एक उम्र सिर्फ दूर से देखा है उन्हें❤️ !!


हर बार सम्हाल लूँगा गिरो तुम चाहो जितनी बार,

बस इल्तजा एक ही है कि मेरी नज़रों से ना गिरना।


आज फिर देखा किसी ने.... 

मोहब्बत भरी निगाहों से, 🙂🤞🏻

आज फिर तुम्हे याद कर... 

तुम्हारे लिए हमने नजरे फेर ली😌❤️


कहीं तो  लिखते  होंगे वो... दिल की  छुपी बातें.. 

कहीं तो  किसी  पन्ने  पर मेरा भी नाम होगा ❤️


तुम्हारे सपने जो मिले हमे...

आँखे अमीर हो गई।


सुनो, बेपनाह मोहब्बत है तुमसे,

अब तुम पास हो या दूर क्या फर्क पढ़ता है❤️ !!

        

काश रुक जाते तुम..

खैर, अपना ख्याल रखना..🖤


तुम सामने आये तो अजब तमाशा हुआ

हर शिकायत ने जैसे खुदखुशी कर ली..


गुज़र जाती है मेरे दर से तेज़ कदमों में, 

ज़िन्दगी दरवाज़े पे दस्तक नहीं देती..


Gf मेरी ऐसी हो ☺

👩🏻‍🦰Super Heroin जैसी हो लंबी उसकी Height हो 🤗

😡गुस्से में वह light हो  और जब उससे मेरी fight हो✊🏻

😉 वह कहें babuतुम ही Right हो😂


कही नहीं उनसे...कभी... अपनीं कोई ख़ाहिश मैनें...

एक तरफ़ा अगर है... निभाना आसान नहीं होता...


2 line shayari


आज की चाय... महक... कुछ इस तरह रही थी...

मेरे ज़हन में तुम्हारी यादों की... खुशबू है जिस तरह...


वो चाँद.. है..

सुबह होते होते... उसके साथ ढलना  चाहती हूँ...

मै उसकी जिंदगी का... सबसे खूबसूरत पल बनना चाहती हूँ.❤‍🩹✨


अपनी मुठ्ठी मे छुपा कर किसी जुगनू की तरह 

हम तेरे नाम को चुपके से पढ़ा करते है


आवाज़ तेरी मुझ में इक जान डाल देगी,

तूँ अग़र बुरा न माने तो तुझे इक कॉल कर लूँ...


इतना भी ग़ुरूर अच्छा नहीं होता... 

की इश्क़ करनें वाला भी... पानें की दुआ बन्द कर दे...


माना कि नशा है... पैर लड़खड़ाते हैं हमारे...

पर... ये इश्क़ है यारों... डूब जानें का एकमात्र ज़रिया शराब ही... थोड़ी है...


अब और कितनी बार मुड़ मुड़ के देखोगे

इरादा जाने का नहीं है तो लौट आइएगा.


उसने तोहफे में पायल कबूल कर ली है, 

अब वो चलेगी तो मेरा इश्क़ गूँजेगा 


मोहब्बत में हम उन्हें भी हारे है... 

जो कहते थे हम सिर्फ तुम्हारे है💔...!!


तेरे मासूम चेहरे से ना जाने कितने धोखे खाए हैं हमने

वो एक चेहरा ही दिखला दे जो बे वफा के दाग़ धुलवा दे


आज कल बात कहा होती है हमारी...!!

बस देखा जा रहा है परवाह किसको है...!!


दर्द लेकर उफ़ भी ना करे ये 

दस्तूर है

चल ए ईश्क़ हमे तेरी ये शर्त भी मंजूर है


सुनो... अगर हमारे जान देनें से... तुम हमारे हो जाओगे...

तो चलो आओ... मैं उस दुनियाँ में तुम्हारा इंतज़ार करनें को ... तैयार हूँ


किसी औऱ के लिए लगी मेहन्दी देखकर... भी रो पड़ा मैं...

ख़ैर... इश्क़ में रोना ना हो अगर... तो सुना है... इश्क़ सच्चा नहीं होता...!!


चलो आओ ... जल्दी से ही लौट चलें... सर्दी की शाम है...

मयखानें में रुके रहना... कोई अच्छी बात थोड़ी है...!!


जब परवाह थी... घुट घुट के अकेले जिया करते थे...

अब फिकर नहीं जब... लोगों नें हाल चाल करना शुरू कर दिया है...!!


अरे आईना देख कर मुंह क्यू फेर लिया,

ऐसी ही होती है बेवफाओ की शक्ल...


two line love shayari 2023


मोहब्बत में शर्त नहीं होती साहब..!

ये वो गुनाह है जो बेशर्त किया जाता है.!!


तुम चाहे मुझसे कितनी भी दूर चले जाना...!

मैं नहीं भूलूँगा तुम्हें अल्फ़ाज़ों से सजाना...!!


बहुत क़रीब से गुज़रे मग़र ख़बर ना हुई...

कि उजड़े शहर की दीवार में खज़ाना था...


मैं ख़ाक होनें से डरता नहीं... फ़िर भी...

आरज़ू है कि तेरे साथ एक लम्हा गुज़ार लें... मिट जानें से पहले...!!


माना ... नशे में पहुँचता हूँ ... हर रोज़ घर मैं...

पर लोग ये क्यों नहीं समझते कि... रास्ते में ही घर पड़ता है उसका... !!


शहर वो भी ... कोई बुरा नहीँ था... लेकिन...

जब से वो हमारा नहीं रहा... तबसे इस शहर में ... अब रहा नहीं जाता...!!


मेरी महोबत की एक छोटी सी कहानी है

 वो मेरी न होके किसी और की दीवानी है


कुछ तो खोया है उसने भी मेरी तरह

मैंने चाहत गवाई  तो उसने बेहद चाहने वाला 


मैं बहुत चाहता हूँ तुमको...

काश... वो भी ऐसा कह पाता...!!


लौट कर जाएंगे वापस घर खुदा के.. तो हिसाब होगा...

हमें हमारी मोहब्बत के बदले... कितनीं... नफ़रत दी गई है...!!


हमारी बेबसी पर मातम मनाओ

चाह कर भी उसे कॉल कर नहीं सकते....


मुझे पहले लगता था, जाति मसला है,,,

मैं फिर समझ गया इश्क़ कायनाती मसला है....


वो आते और हमसे कहते... चलो... साथ हैं तुम्हारे अभी से....😄

ऐसा होना... मुमकिन तो नहीं लगता ... इस जनम में 😔


खुद को खुश 😌 रखने के तरीके खोजें❤❤️‍🩹..

तकलीफें तो आपको🙃 खोज ही रही हैं..!🖤✨


मै जानता हु, कहाँ तक उड़ान है उनकी

मेरे ही हाथ से निकले हुए परिंदे है...


उधर उनकी चल रही है औरों से गुफ़्तगू,

इधर मेरी खुद से भी बोल चाल बंद है..


two line  shayari 2023


क्या-क्या छीना हैं मुझसे उसने बतलाऊँ ?

नींद, चैन, मुस्कान, ख़ुशी, वो, मैं, यानी सब...!!


मान लीजिए हालात से मजबूर होकर उसने जिस्म बेचा

तुम इतने शरीफ थे तो बदन ढक भी सकते थे


ना जाने उसको किसका इंतज़ार था,

मरने वाले ने बड़ी देर से दम तोड़ा था..!!


हमारे शहर आ जाओ, सदा बरसात रहती है

कभी बादल बरसते है, कभी आँखें बरसती है...


बड़ी तलब थी सनम को बेनकाब देखने की

दुपट्टा जो गिरा तो कमबख़्त जु़ल्फे दिवार बन गयी