alone shayari लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

alone shayari | sad alone shayari

न जाने क्या मजबूरी है उनकी मुझे देखकर नजरें झुका लेती है, कभी देखने को तरसती थी अब क्यों दिल की बात दिल में दबा लेती है। ख्वाइश थी की वो मुझे याद करे मेरी तरह, …

और पढ़ें
ज़्यादा पोस्ट लोड करें कोई परिणाम नहीं मिला