alone shayari | sad alone shayari

न जाने क्या मजबूरी है उनकी मुझे देखकर नजरें झुका लेती है, कभी देखने को तरस…

ज़्यादा पोस्ट लोड करें कोई परिणाम नहीं मिला